Kaal Sarp Dosp Puja

जानिए किस स्तिथि व्यक्ति मांगलिक कहलाता है या मांगलिक दोष से पीड़ित होता है

:-जब किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली के 4,1, 7, 9, 12 वें स्थान या भाव में मंगल स्थित हो तो वह व्यक्ति मांगलिक होता है।

मांगलिक लोगों की खास बातें :-

मांगलिक होने का विशेष गुण यह होता है कठिन से कठिन कार्य वह समय से पूर्व ही कर लेते हैं, नेतृत्व की क्षमता, उनमें जन्मजात होती है, ये लोग जल्दी किसी से घुलते-मिलते नहीं परन्तु जब मिलते हैं तो पूर्णतः संबंध को निभाते हैं, अति महत्वकांक्षी होने से इनके स्वभाव में क्रोध पाया जाता है परन्तु यह बहुत दयालु, क्षमा करने वाले तथा मानवतावादी होते हैं, गलत के आगे झुकना इनको पसंद नहीं होता और खुद भी गलती नहीं करते।ये लोग उच्च पद, व्यवसायी, अभिभावक, राजनीतिज्ञ, डॉक्टर,इंजीनियर सभी क्षेत्रों में विशेष योग्यता प्राप्त करते हैं।

  36 गुण मिलना सही नहीं माना जाता क्योंकि भगवान राम और माता सीता के 36 गुण मिले थे। लेकिन शादी के बाद सीताजी को रामजी का साथ बहुत कम मिला, उनका वैवाहिक जीवन सुखी नहीं रहा, अति हमेशा बहुत बुरी होती है चाहे वह गुण का मिलना ही क्यों न हो।

अगर आप भी कुंडली में मांगलिक दोष आदि देखना चाहते हो तो संपर्क करिये आप हमारे मांगलिक दोष पूजा विशेषज्ञ.

  • #mangaldoshpuja
  • #manglikpujaujjain
  • #mangalpujaujjain
  • Mangal Dosh Puja Ujjain & Mangal Bhat Puja Ujjain

Leave A Comment